हिंदी विवेक : WE WORK FOR A BETTER WORLD...

टीजेएसबी बैंक डिजिटल बैंकिंग की ओर अग्रसर

Continue Reading

टीजेएसबी सहकारी बैंक भारत की प्रमुख सहकारी बैंको में से एक है। बैंक विगत ४६ वर्षों से अपने ग्राहकों का विश्वास जीत कर उनकी सेवा के लिए हमेशा तत्पर रही है। बैंक के पास अपने ग्राहकों को देने लिए लगभग सभी प्रकार के डिजिटल प्रोडक्ट जैसे ई-बैंकिंग, आएमपीएस,

तिरुपति में केशदान, शिर्डी में रक्तदान: सुरेश हावरे

Continue Reading

शिर्डी का साईंबाबा संस्थान दुआ, दवा, सेवा तथा भक्ति और शक्ति की अनोखी मिसाल है। भक्तों को बेहतर सुविधाओं के साथ-साथ शिर्डी के विकास की विभिन्न योजनाएं लागू की जा रही हैं। नए-नए उपक्रम स्थापित किए जा रहे हैं। सन २०१८ साईं बाबा का समाधि शताब्दि वर्ष है। इ

आंचल में अंगार सहेजने वाली सुलभा

Continue Reading

हमने ही आपात्कालीन परिस्थिति समाप्त कराई’ ऐसी डींग कइयों ने हांकी होगी, प्रशंसा बटोरी होंगी। जो आपात्काल के विरोध में खड़े हुए, भूमिगत हुए, जेल गए उन्हें यह पता है कि आपात्काल के विरोध में लड़ाई जीती गई इसका कारण है सुलभा शांताराम भालेराव जैसी साहसी

भारतीय चित्रपट संगीत

Continue Reading

भारतीय संगीत न केवल हमारी संस्कृति की अमूल्य निधि है वरन वह संगीत विश्व के इन सांगीतिक संस्कृतियों व कला संस्कृतियों की पोषक है; जिसने अपनी संवेदनाओं और मनोभावों को विभिन्न आयामों में प्रस्तुत किया। भारतीय संगीत बहुत व्यापक विषय है जिसने कई सांगतिक शैल

मेहनत की कमाई

Continue Reading

दुनिया भर का कूड़ा-कर कट संजो कर पता नहीं क्यों रख लेते हैं? इनकी यह बीमारी पता नहीं कब जाएगी ? अरे सुनते हो.....जरा इधर तो आना। निर्मल बड़बड़ाई। .....कुछ इसी अंदाज में हमारे सन्डे की शुरूआत होती है। घर की साफ-सफाई का यह दौरा, वैसे तो उन्हें प्रतिदिन पड़ता

स्वावलम्बी

Continue Reading

पति के रोज -रोज के तानों से शाश्वती तंग आ चुकी है। वाकई वैवाहिक जीवन दोधारी तलवार की तरह है। कहां पिता के राज में अमन- चैन भरी जिंदगी और कहां यहा बात-बात पर ताने-उलाहनें, अपमान, तिरस्कार। क्या हर ‘हाऊस वाईफ’ के जीवन में ‘अर्थ’ को

यादें बीते हुए साल की….

Continue Reading

जनवरी माह से शुरू होने वाले नए वर्ष में सब से पहले आनेवाला त्यौहार होता है मकर संक्रमण। संक्रमण शब्द का अर्थ है परिवर्तन, आगे बढ़ना या अपनी स्थिति बदलना। और अगर साल की शुरुआत ही परिवर्तन से हो तो स्वाभाविक है कि यह दौर साल के अंत तक चलता है। विगत वर्ष अर

प्रतिभाएं हैं, मौका तो दीजिए

Continue Reading

उत्तर प्रदेश के बागपत जिले में स्थित जौहड़ी गांव में उम्मीद की एक किरण ने करीब डेढ़ दशक पूर्व अंगडाई ली। अंतरराष्ट्रीय निशानेबाज एवं पेशे से डॉक्टर रहे राजपाल सिंह ने जनसाधारण का खेल बना दिया। आधुनिक सुविधाओं के अभाव में उन्होंने युवाओें के हाथ में लाठी,

कश्मीर घाटी में नोटबंदी का असर

Continue Reading

नोटबंदी के चलते किसको लाभ हुआ और किसको हानि, राजनीति और अर्थशास्त्र के विद्वान लोग इसका लम्बे अरसे तक अध्ययन करते रहेंगे और अपने अलग-अलग निष्कर्ष भी निकालते रहेंगे। लेकिन नोटबंदी ने जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद की कमर तोड़ दी है, इसको लेकर सभी सहमत हैं। इस म

नोटों की किल्लत और छपाई

Continue Reading

देश में ५०० और १,००० रुपये के पुराने नोट बंद हुए डेढ़ महीने से ज्यादा वक्त बीत चुका है। हालांकि बैंकों की शाखाओं में और एटीएम के बाहर पहले जैसी लंबी कतारें तो नहीं दिख रही हैं और गांव-देहात में भी जरूरत भर की रकम मिल जाने की खबर आ रही है, लेकिन नोटों की

नोटबंदी का एक्स-रे

Continue Reading

ओशो और नोटबंदी की बात करना बड़ा अटपटा लगेगा। लेकिन ओशो के चिंतन की गहराई में उतरे तो इसमें सिद्धांत पकड़ में आ जाएगा। ओशो ने कहा है, जब बदलाव या नवनिर्माण होता है तब सब कुछ उल्टा-पुल्टा हुआ लगता है। अराजकता का माहौल बन जाता है। पुरानी इमारत ध्वस्त हो जाती

End of content

No more pages to load

Close Menu