देश को नई ताकत देता मिशन शक्ति

Continue Reading देश को नई ताकत देता मिशन शक्ति

आने वाले समय में जरूरी नहीं कि कोई जंग धरती पर लड़ी जाए, बल्कि उसका मैदान स्पेस (अंतरिक्ष) भी हो सकता है। इस लिहाज से भारत को अंतरिक्ष में भी सैन्य या युद्धक क्षमता से लैस होना होगा, जिसकी एक ठोस शुरुआत मिशन शक्ति से हो गई है। आने वाले वक्त में अंतरिक्ष में चुनौतियां कितनी बढ़ने वाली हैं,

अब पीछे हटने का प्रश्न कहां है ?

Continue Reading अब पीछे हटने का प्रश्न कहां है ?

धीरे-धीरे राजनीतिक नेतृत्व को लक्ष्य विस्तारित करते हुए सेना को बता देना चाहिए कि हमें कश्मीर के उस भाग को वापस ले लेना है। इसके बाद पाकिस्तान को सिंध, बलूचिस्तान, खैबर पख्तूनख्वा में आजादी के अहिंसक आंदोलन को परवान चढ़ाने का लक्ष्य राजनीतिक नेतृत्व को कूटनीतिज्ञों एवं प्रवासी भारतीयों के माध्यम से अंजाम देना है।

याद रखो कुर्बानी

Continue Reading याद रखो कुर्बानी

किसी आतंकवादी हमले के बाद केवल एक दिन प्रतीकात्मक देशभक्ति प्रदर्शित कर शेष दिन हम उसी पाकिस्तान के साथ क्रिकेट मैच खेलते हैं और पाकिस्तानी कलाकारों की फिल्में देखने में मशगूल रहते हैं। आपकी एक दिन की राष्ट्रभक्ति जगाने के लिए जवानों को शहीद होना पड़ता है। यह दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति…

अभिनंदन तो झांकी हैं पर आतंकवादी बाकी हैं……

Continue Reading अभिनंदन तो झांकी हैं पर आतंकवादी बाकी हैं……

ये सही है कि भारत का जाबांज सही सलामत वापिस आ गया है, परंतु वह जिस मिशन के लिए काम कर रहा था, क्या वह खत्म हो गया है? नहीं! अभिनंदन साधन मात्र था जिसे साध्य पर चलाया गया था, परंतु पिछले दो तीन दिनों तक हमारा पूरा ध्यान साधन…

पाकिस्तान गलती दोहरा रहा है….

Continue Reading पाकिस्तान गलती दोहरा रहा है….

भारतीय एयर फोर्स के पायलट अभिनंदन को पाकिस्तान ने अपने कब्जे में लेने के बाद जिस प्रकार से उनके साथ व्यवहार किया है, हमले का वीडियो  संपूर्ण विश्व में वितरित किया है, इस बर्ताव के बाद पाकिस्तान की स्थिति राष्ट्रीय स्तर पर अत्यंत बिगड़ती हुई दिखाई दे रही है. पुलवामा…

सिर्फ तस्वीरों में दिखेंगे भारत के शुतुरमुर्ग

Continue Reading सिर्फ तस्वीरों में दिखेंगे भारत के शुतुरमुर्ग

भारत से विलुप्त हो चुका चीता हो या फिर विलुप्ति की कगार पर पहुंचे स्याहगोश और गोडावण हो, ये तीनों ही शुष्क और झाड़ी व घसियाले मैदानों वाले जंगलों में रहा करते थे। इनके जीवन पर आए संकट से इस तरह के जंगलों का किस कदर खात्मा हो रहा है,…

हिमालय के वन और वन्य जीव संकट में

Continue Reading हिमालय के वन और वन्य जीव संकट में

हिमालयी राज्यों में चल रहे निर्माण कार्यों में जैसे-भवन, बांध, सड़कों का चौड़ीकरण, ऑलवेदर रोड, रेल लाइन आदि में कहीं भी भूकम्प व अन्य आपदाओं को सहन करने की क्षमता नहीं है। इसी कारण यहां चल रही बड़ी विकास परियोजनाएं विनाश का कारण बन सकती हैं। गंगोत्री के आगे 18…

मोदीजी नीयती आप से कुछ चाहती है

Continue Reading मोदीजी नीयती आप से कुछ चाहती है

  14 फरवरी यह दिन संपूर्ण भारत और भारत के निवासियों के लिए अत्यंत दु:खद और सदमें से भरा हुआ रहा। भारतीय सीआरपीएफ के जवानों को जम्मू से श्रीनगर ले जा रहे बसों के काफिले पर आतंकवादियों ने भीषण घातक हमला किया। आरडीएक्स जैसे विस्फटकों से लदी हुई कार को…

रफाल पर राहुल से 7 सवाल

Continue Reading रफाल पर राहुल से 7 सवाल

रफाल पर राहुल काफी बोल चुके हैं। अब राहुल से सवाल पूछने का समय है। ये महत्वपूर्ण सवाल हैं, क्योंकि मामला देश की रक्षा से जुड़ा है। इन सवालों को जानने से पता चल जाएगा कि राहुल झूठ का गरल उगल कर देश की जनता को किस तरह बेवकूफ बना…

बंगलादेश के अल्पसंख्यकों को भारतीय नागरिकता

Continue Reading बंगलादेश के अल्पसंख्यकों को भारतीय नागरिकता

बांगलादेश, अफगानिस्तान एवं पाकिस्तान के गैर-मुस्लिमों को भारतीय नागरिकता देने का बिल संसद ने पास कर दिया। इस विधेयक के माध्यम से उपरोक्त देशों के हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी एवं इसाई समुदाय के लोगों को भारतीय नागरिकता दी जायेगी। यह केवल असम तक सीमित नही है वरन् देश के…

भारतमाला परियोजना ‘न्यू इंडिया’ की दिशा में बढ़ते कदम

Continue Reading भारतमाला परियोजना ‘न्यू इंडिया’ की दिशा में बढ़ते कदम

भारतमाला परियोजना के अंतर्गत देश भर में अनेक नई सड़कों का जाल बिछाने की योजना है। पहले चरण में कोई 24,800 कि.मी. सड़कों के निर्माण का कार्य चल रहा है। किसी राष्ट्र का विकास उसके परिवहन नेटवर्क और उसके रखरखाव के तौर-तरीकों पर निर्भर करता है। यही बात भारत जैसे…

पाक आतंकवाद बरास्ता करतारपुर…

Continue Reading पाक आतंकवाद बरास्ता करतारपुर…

सिखों के तीर्थस्थलों की मुक्त यात्रा के लिए करतारपुर मार्गिका बनाने का भारत-पाकिस्तान का साझा निर्णय स्वागतयोग्य है; लेकिन पाकिस्तान के साथ अपने कटु अनुभवों को देखते हुए भारत को सतर्क रहना होगा। करतारपुर से निकला अमन का यह रास्ता कहीं भारतीय पंजाब में अलगाववाद फैलाने की प्रदीर्घ साजिश का…

End of content

No more pages to load