मुख्तार की रफ्तार पर योगी का ब्रेक

Continue Reading मुख्तार की रफ्तार पर योगी का ब्रेक

मुलायम, मायावती और शिवपाल से लेकर राष्ट्रीय स्तर की पार्टी तक ने मुख्तार को अपना मोहरा बनाना चाहा लेकिन, सत्ता के शीर्ष पर जब कहीं कोई ‘योगी’ बैठा हो तो बड़े-बड़े कैप्टन और चाचा की राजनीति भी धरी रह जाती है। मुख्तार को बांदा जेल की कोठरी में लौटना ही पड़ा है।

भारत के लिए खतरा रोहिंग्या मुसलमान

Continue Reading भारत के लिए खतरा रोहिंग्या मुसलमान

जांच में पता चला कि अलकायदा का आतंकवादी रहमान कई रोहिंग्याओं से सीधे संपर्क में था और वह दिल्ली, मणिपुर और मिज़ोरम में बेस बनाकर रोहिंग्या मुसलमानों को अलकायदा में भर्ती करना चाहता था। बताया जाता है कि रहमान अल कायदा के टॉप कमांडर से सीधे संपर्क में था और उनके निर्देश पर नापाक इरादों को अंजाम देने की तैयारियों में जुटा हुआ था। यह बात किसी से छुपी हुई नहीं है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई रोहिंग्या मुसलमानों को भारत में आतंकवादी हमला करने के लिए इस्तेमाल करना चाहती है। इस काम को अंजाम देने के लिए उसने भारत में अपने स्लीपर सेल के नेटवर्क को सक्रिय कर दिया है।

युग प्रवर्तक साहित्यकार नरेंद्र कोहली

Continue Reading युग प्रवर्तक साहित्यकार नरेंद्र कोहली

भारतीय ज्ञान, परंपरा, संस्कृति और आध्यात्मिकता से परान्गमुख साहित्यकारों के खेमें भिन्न-भिन्न मंचों से पश्चिम के अनुकरण को आधुनिकता सिद्ध करने की होड़ में ताल ठोंक रहे थे। ऐसे में नरेंद्र कोहली जी ने अपांक्तेय रहकर अपने लेखन में भारतीय पौराणिक एवं ऐतिहासिक चरित्रों के माध्यम से वर्तमान समय की गुत्थियां सुलझाते हुए आधुनिक समाज की नींव रखने में श्रेयष्कर भूमिका निभाई। साहित्य के द्वारा भारतीय जनमानस में भारतीय महापुरुषों को स्थापित करने का श्रेय कोहली जी को जाता है।

वित्तीय बदलावों से होगा सुधार

Continue Reading वित्तीय बदलावों से होगा सुधार

नए वित्त वर्ष में सरकार ने आर्थिक क्षेत्र में अनेक बदलाव किये हैं, जिनका सीधा प्रभाव नौकरीपेशा, आमजन और बुजुर्गों पर पड़ा है। हालांकि,ये बदलाव लोगों के वित्तीय जीवन में बेहतरी लाने के लिये किये गए हैं। भविष्य निधि और आयकर के तहत किये जाने वाले बदलावों से सरकार की आय में इजाफा होगा, जिससे सरकार विकास केंद्रित कार्यों को अमलीजामा पहना सकेगी।

तुलादान ने बढ़ाया मुख्यमंत्री का मान

Continue Reading तुलादान ने बढ़ाया मुख्यमंत्री का मान

समस्त महाजन संस्था के मैनेजिंग ट्रस्टी एवं भारतीय जीवजंतु कल्याण बोर्ड के सदस्य गिरीश भाई शाह ने बताया कि तुलादान को प्रोत्साहित करने के लिए समस्त महाजन संस्था ऐसे कार्यक्रम नित्य करती रही है। ऐसा देखा गया है कि जिन्होंने भी तुलादान में हिस्सा लिया है ऐसे दानवीरों की कीर्ति चारों दिशाओं में फैली है और उनकी यश पताका सदैव फहराती रही है। उनमें से एक,अपने यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी भी हैं, जब वह गुजरात के मुख्यमंत्री थे, तब उन्होंने भी तुलादान किया था और उन्ही के पदचिन्हों पर चलते हुए गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने भी तुलादान कर गोवंश एवं पशुधन संरक्षण के लिए अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

शताब्दी का जश्न मनाएंगे मुठ्ठीभर कम्युनिस्ट?

Continue Reading शताब्दी का जश्न मनाएंगे मुठ्ठीभर कम्युनिस्ट?

छत्तीसगढ़ में केंद्रीय सुरक्षा बल के जवानों की निर्मम हत्या की हालिया घटना भी उन कम्युनिस्ट और वामपंथियों के तबाहकारी कारनामों का एक और उदाहरण है, जो देश की कीमत पर अराजकता को बढ़ावा देने में विश्वास रखते हैं। बहरहाल, घटते समर्थन को देखते हुए वो दिन दूर नहीं, जब कम्युनिस्ट और वामपंथी कुनबे की तरह नक्सलियों को भी उनकी असली जगह दिखा दी जाएगी।

गृहयुद्ध की आग में झुलसता म्यांमार

Continue Reading गृहयुद्ध की आग में झुलसता म्यांमार

इन सारे सवालों से जुड़ा सवाल है कि भारत चुप क्यों है? इस समय भारत उतनी शिद्दत के साथ सैन्य शासन के विरुद्ध क्यों नहीं बोल रहा, जैसा 1988 में बोलता था? सवाल यह भी है कि उससे हमें मिला क्या? हमारे रिश्ते खराब हुए, जिनका लाभ चीन को मिला। म्यांमार में चीन की दिलचस्पी किसी से छिपी नहीं है।

दक्षिणी राज्यों में अपनी-अपनी जीत के दावे

Continue Reading दक्षिणी राज्यों में अपनी-अपनी जीत के दावे

केरल में इस बार भाजपा के नेतृत्व वाले राजग गठबंधन ने राज्य की कई सीटों पर लड़ाई को त्रिकोणीय बना दिया है और पहली बार राज्य में उसकी सशक्त उपस्थिति को नजरंदाज नहीं किया जा सकता।

असम में भाजपा फिर मारी बाजी

Continue Reading असम में भाजपा फिर मारी बाजी

कुल मिलाकर असम के विधानसभा चुनाव हेतु मतदान के तीनों चरण संपन्न हो जाने के बाद भाजपा नीत गठबंधन आत्मविश्वास से लबरेज़ दिखाई दे रहा है और कांग्रेस नीत महागठबंधन (महाजोत) इस उम्मीद में ख़ुश हो रहा है कि 2 मई को होने वाली मतगणना उसे सत्ता की दहलीज तक पहुंचा सकती है, लेकिन, इसमें दो राय नहीं हो सकती कि मतों का समीकरण भाजपा के पक्ष में है।

बंगाल में भाजपा का उदय

Continue Reading बंगाल में भाजपा का उदय

गृहमंत्री अमित शाह की रैली एवं रोड शो में उमड़ी जबरदस्त भीड़ और मेदिनीपुर व उसके आस-पास के 50 विधानसभा सीटों पर अच्छा-खासा प्रभाव रखने वाले शुवेंदु अधिकारी समेत लगभग 10 विधायकों एवं अनेक सांसदों का बीजेपी में शामिल होना आगामी विधानसभा चुनाव की तस्वीरें साफ़ करता है।

नवोन्मेष की प्रत्यक्ष मिसाल आबा साहब पटवारी

Continue Reading नवोन्मेष की प्रत्यक्ष मिसाल आबा साहब पटवारी

आबा साहब संघ स्वयंसेवक थे। समाज से हर वर्ग से जुड़े रहना ही उनके जीवन का सार था। ‘संगठन गढ़े चलो, सुपंथ पर बढ़े चलो, भला हो जिसमें देश का वो काम सब किए चलो।’ इस संघगीत को आबा साहब ने अपने जीवन में उतार लिया था। वे सदैव इसी मार्ग पर चले।

इतनी मौतों का दोषी कौन?

Continue Reading इतनी मौतों का दोषी कौन?

देश में कोरोना पीड़ित लोगों के, संक्रमित लोगों के और मृत्यु के आंकड़े दिन-प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं। इन आंकड़ों के अलावा और भयावह स्थिति तो तब उत्पन्न होती है जब अपने आस-पास के लोगों की रोज मिलने वाली मृत्यु की खबरें सुनाई देती हैं। समाचारों में यह दिखाया जाता कि किस प्रकार एक ही चिता पर तीन-चार शवों का एक ही साथ अंतिम संस्कार किया जा रहा है। मरने वाले व्यक्ति के अंतिम दर्शन करना भी परिवार के सभी लोगों के लिए मुमकिन नहीं हो रहा है। दिल दहला देने वाली इतनी भयावह परिस्थिति उत्पन्न हुई कैसे? कोरोना पीड़ितों का और मृत्यु का आंकड़ा इतना बढ़ा कैसे? समाज के रूप में हमसे कहां चूक हो गई?

End of content

No more pages to load